खबर वर्ल्ड न्यूज-रायपुर। पत्नी ने प्रेमी से ऑटो चालक पति की हत्या कराई। इस मामले में आज खुलासा हो गया है। पुलिस ने बताया कि 10 जून को डायल 112 में इवेंट प्राप्त हुआ कि खारुन नदी में एक मृत व्यक्ति उफला देखा गया है मौके पर जाकर देखा तो खारुन नदी पुल पिलर नंबर 4=5 के मध्य केसरी बगीचा भाठा गांव में एक अज्ञात पुरुष की लाश नदी में उफली है मौके पर गोताखोर बुलवाकर शव को बाहर निकलवाया शव को देखने पर अज्ञात मृतक पुरुष का हुलिया मध्यम मजबूत बदन, उम्र लगभग 30 से 35 वर्ष,सिर के बाल छोटे, हल्का दाढ़ी मूछ, नाक मुंह से रक्त निकला, दाहिने आंख के नीचे काला मस्सा, दाएं गले में अंग्रेजी में गोदना से एम लिखा है, दाएं भुजा में शिव जैसे टैटू बना, पीला रंग का शर्ट,सामने अंग्रेजी में INS CONNECTION लिखा है,एक हाथ की कलाई के ऊपर अंग्रेजी में KAVITA लिखा है, कमर के नीचे काला फुल पैंट तथा लाल रंग का बेल्ट पहना है,आसपास के लोगों को बुलवाकर पहचान करने का प्रयास किया गया किंतु शव की शिनाख्ती नहीं हुई है, सूचना पर थाना पुरानी बस्ती में मर्ग क्रमांक 33/2024 पंजीबद्ध कर जांच में लिया गया मर्ग जांच के दौरान अज्ञात शव की पहचान करवाई हेतु लगातार नदी के आसपास के ग्रामों में टीम बनाकर भेजी गई परंतु कोई पहचान नहीं होने से पहचान हेतु प्रेस विज्ञप्ति जारी किया गया

जिसके माध्यम से अज्ञात शव का पहचान विधाता यादव पिता जुगरात यादव उम्र 30 वर्ष निवासी सन्यासी पर मुस्कान दुकान के पास खमतराई थाना खमतराई जिला रायपुर के रूप में हुई परिजनों के उपस्थिति में शव पंचनामा कर दिनांक 13.06.2024 को एम्स अस्पताल में शव परीक्षण कराया गया दिनांक 14.06.2024 को शव प्रशिक्षण प्रतिवेदन प्राप्त हुआ जिसमें विधाता यादव की मौत सिर के पीछे किसी सख्त एवं भोथले वस्तु से बलपूर्वक चोट पहुंचने से होना पाए जाने पर अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 255/2024 धारा 302 201 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

विवेचना दौरान मामले की गंभीरता को देखते हुए सायबर सेल Cyber ​​Cell व थाना पुरानी बस्ती द्वारा टीम गठित कर घटना स्थल के आस पास के अनेको सी. सी.टी.वी. फूटेज व मृतक के करीबियों के मोबाइल नंबरों को खंगालने पर पाया गया की विधाता यादव की पत्नी विधाता यादव के आटो मालिक से मोबाइल पर बात करती है व घटना स्थल पर आटो मालिक अमजद खान का लोकेशन पाए जाने से अमजद खान को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि विधाता यादव ऑटो चलाने का काम करता था वह ऑटो किराए पर लेकर आटो चलाता है। डेढ़ वर्ष पूर्व विधाता यादव की पत्नी मीना यादव से ऑटो मलिक अमजद खान की बात होने लगी वे एक दूसरे से प्यार करने लगे और उन दोनों के मध्य शारीरिक संबंध स्थापित होते गया आज से चार पांच माह पूर्व अमजद खान अपने नाम का एक मोबाइल फोन और अपने नाम का एक सिम मीना यादव को दिया जिसे दोनों बात करते थे इसी मध्य विधाता यादव को अपनी पत्नी मीना यादव व ऑटो मलिक अमजद खान के मध्य संबंध का पता चलने पर वह अपनी पत्नी मीना यादव के साथ गाली-गलौच कर मारपीट करने लगा तथा अपने मालिक अमजद खान के साथ भी गाली गलौज करता था मीना यादव आरोपी प्रेमी अमजद खान के साथ जीवन बिताना चाहती थी इसलिए वह अमजद खान को कहने लगे कि अपने पति से परेशान हो गए हूं उसे रास्ते से हटाना है आरोपी प्रेमी तैयार हो गया।

विधाता यादव की हत्या करने के लिए योजना बनाने लगा और उसने हत्या को अंजाम देने के लिए अपने ऑटो चालक अन्नू प्रजापति को योजना से अवगत कराकर अपने साथ 09.06.2024 की रात्रि को दारू पार्टी करने के बहाने अपने गैरेज पर में विधाता यादव को बुलाया और अनु प्रजापति के साथ उसके ऑटो में लेकर पुलिस लाइन के पास शराब दुकान से शराब लेकर खुड़मुड़ा घाट पुल के ऊपर भाटा गांव ले गया तब तक रात हो चुकी थी तीनों मिलकर शराब पिए लगभग 9:30 बजे के आसपास अमजद खान ने ऑटो में रख लोहे की पटिया से विधाता यादव के सिर के पीछे गंभीर चोट पहुंचाया जिससे विधाता यादव जमीन पर गिर गया अमजद खान तथा अनु प्रजापति मिलकर उठाकर विधाता यादव को पुल से नीचे पानी में फेंक दिए घटनाक्रम के दौरान विधाता की पत्नी मीना यादव लगातार फोन से अपने प्रेमी अमजद के साथ संपर्क में रही और जानने का प्रयास करती रही की पति विधाता यादव का काम तमाम हुआ कि नहीं अमजद के बताने के बावजूद उसकी पत्नी विश्वास नहीं कर रही थी की विधाता यादव अब इस दुनिया में नहीं रहा। दूसरे दिन सोमवार को मीणा अपने प्रेमी अमजद को जिद करने लगी यदि तू विधाता को मारे हो तो उसकी लाश दिखाओ इस बात पर दोनों स्कूटी से पुनःखुडमुड़ा घाट घटना स्थल गए जहां खारुन नदी में विधाता की शव को उपले देखने के बाद विश्वास की विधाता का काम तमाम हो गया है। आरोपियों के विरुद्ध पर्याप्त सबूत पाए जाने से दिनांक 16.06.2024 को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।