Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

धर्म आध्यात्म

धर्म आध्यात्म
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
::cck::7246::/cck::
::introtext::
          *एक बार की बात है सम्राट अकबर एवं बीरबल ने मार्ग में किसी ब्राह्मण को भीख माँगते देखा।* 
*राजा ने बीरबल से पूछा-: यह क्या, एक ब्राह्मण होकर भी ये भीख मांग रहा है?* 
*बीरबल ने तत्काल उतर दिया-: महाराज! ये पंडित भूला हुआ है।*
*अकबर ने कहा-: तो इस पंडित को रास्ते पे लाओ।* 
*बीरबल ने कहा-: आ जायेगा राजन, थोड़ा समय लगेगा। कृप्या तीन माह

धर्म आध्यात्म
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
::cck::7013::/cck::
::introtext::
एक विनम्र निवेदन एवं अपील 
 
सभी शिव भक्त इस बात को शेयर करें हमारे भगवान का अपमान होता है इस गलत सोच से ।
 
भगवान शिव का गांजे से कोई संबंध नही रहा है , उन्हें नशे का आदि बता कर आप भगवान शिव के मूल स्वरूप का अपमान कर रहे हैं,भगवान शिव नशे में रहकर स्वयं को नही भुलाते ।गाँजे को शिव का प्रसाद कहना बन्द करें 😠😡 पुराणों और वेदों में गांजे शब्द का किसी भी प्रकार का वर्णन नही है ,विजया शब्द का वर्णन है

धर्म आध्यात्म
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
::cck::6995::/cck::
::introtext::
5 प्रमुख नागों की होती है नागपंचमी पर पूजा
सावन के मौसम के साथ त्योहार का सिलसिला शुरू हो जाता है। इस साल 5 अगस्त को नागपंचमी है। श्रावण मास के शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि को नाग पंचमी मनाई जाती है। इस बार शुक्ल पक्ष की नाग पंचमी 5 अगस्त सोमवार को है और इसी दिन सावन का तीसरा सोमवार भी है। 125 सालों बाद तीसरे सोमवार के दिन नागपंचमी पड़ रही है। नागपंचमी पर नाग देवता या सर्प की पूजा की जाती है और उन्हें

धर्म आध्यात्म

User Rating: 4 / 5

Star ActiveStar ActiveStar ActiveStar ActiveStar Inactive
::cck::6954::/cck::
::introtext::
*महावृष्टि चलि फूटि किआरीं*।
 *जिमि सुतंत्र भए बिगरहिं नारीं*।।
        
*जैसे अत्यधिक वर्षा क्यारियों के मेढ़ तोड़ देती है स्त्री की स्वच्छंदता (स्वतंत्रता) मर्यादा को तार- तार कर सकती है। जरा विचार करें कि रावण ने किसे अपने वश में नहीं किया था*..
 
*ब्रह्मसृष्टि जहँ लगि तनुधारी*।
    *दसमुख बसवर्ती नर

  • RO no 12737/36 "
  • - RO No 12737/36 - "
  • Jindal small
  • RO No 12710/36 "
  • Anand Green
  • jINDAL
  • Bhawan Nirman Mela

Latest News

RSS

Weather

+33
°
C
High:+35
Low:+21
Fri
Sat
Sun
Mon
Tue

DPR CG Tweets


Notice: Undefined index: source in /home/u709335564/domains/khabarworld24.com/public_html/modules/mod_sp_tweet/tmpl/list.php on line 49
From

Notice: Undefined index: text in /home/u709335564/domains/khabarworld24.com/public_html/modules/mod_sp_tweet/tmpl/list.php on line 52

Notice: Undefined offset: 0 in /home/u709335564/domains/khabarworld24.com/public_html/modules/mod_sp_tweet/tmpl/list.php on line 70
Follow on Twitter