Wednesday, 24 February 2021

K.W.N.S.- गरियाबंद। सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के तत्वाधान में पं दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि समपर्ण दिवस के रूप में मनाई गई। स्थानीय पीडब्ल्यु डी विश्राम गृह में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा पदाधिकारियो के पं उपाध्याय के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए उनके बताए मार्गो पर चलने का आव्हान किया। कार्यक्रम में भाजपा पदाधिकारियों ने मोदी एप के माध्यम से भाजपा को मजबुत बनाने हेतु सहयोग राशि भी भेजी। इस अवसर पर कार्यक्रम को सबोधित करते हुए जिला महामंत्री रिखीराम यादव ने कहा कि पं दीनदयाल उपाध्याय के बताये मार्ग पर चलकर भाजपा नें केन्द्र और राज्य में अंतिम व्यक्ति तक विकास को पहुचाने का काम किया। सरकार की प्रत्येक योजना समाज के सभी वर्ग विशेषकर गरीब और पिछड़े वर्ग के लोगो के विकास के सार्थक साबित हुई है। उन्होने कहा कि राज्य में विपक्ष की भूमिका में हमे संगठित होकर कार्य करने की जरूरत है। सामने लोकसभा चुनाव मंे भाजपा को जितान ही हमारा लक्ष्य है। कार्यकर्ता केन्द्र सरकार की योजनाओ को लेकर जनता के बीच जाये और फिर से मोदी सरकार बनाने का आव्हान करे। कार्यक्रम में सांस्कृति प्रकोष्ठ के प्रदेश सहसंयोजक आशीष शर्मा ने कहा कि पं दीनदयाल उपाध्याय के सोच और विचार के अनुरूप ही भाजपा सरकार ने योजना बनाकर गरीबो का कल्याण किया है। अंतिम व्यक्ति तक विकास कैसे पहुचे इसका चिंतन किया है। जनधन योजना, मुद्रा योजना, फसल बीमा, आयुष्मान भारत योजना और हाल में शासन द्वारा किसानो का प्रति वर्ष छ हजार रूपए प्रति एकड देने की घोषणा इसके मुख्य उदारहण है। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन मंडल महामंत्री सुरेन्द्र सोनटेके ने किया। कार्यक्रम में वरिष्ठ भाजपा नेता बलदेव सिंह हुदंल, जिला उपाध्यक्ष अनिल चंद्राकर, नपा अध्यक्षा मिलेश्वरी साहू, उपाध्यक्ष मुकेश दासवानी, रेणुका साहू, केशव साहू, आसिफ मेमन, परस देवांगन, युगल समदरिया, प्रकाश यादव, विनोद यादव, राजकुमारी रात्रे, पुष्पा साहू, सविता साहू, सेवक निषाद, आदि मौजुद थे। 
 

 पं दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति पर धान अर्पित कर दिया धरना
K.W.N.S.- रायपुर।  पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर आज पूर्व मंत्री चंद्रशेखर साहू, महिलाएं और किसानों ने शराबबंदी की मांग को लेकर धरना दिया।  इस दौरान चंद्रशेखर ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर प्रदेश में जल्द शराबबंदी लागू नहीं हुई तो सरकार के खिलाफ मंत्रालय से मौन मार्च निकालेंगे।  उन्होंने कहा कि जिस शराब से लोगों की जान जाती है, उसे सरकार बंद नहीं कर रही है।  विपक्ष में रहते इन्होंने बहुत हल्ला किया था, लेकिन अब क्या हो गया?
चंद्रशेखर साहू ने कहा कि सरकार ने शराबबंदी को लेकर बजट में जिक्र तक नहीं किया।  सरकार में आने से पहले इन्होंने शराबबंदी को लेकर खूब हल्ला मचाया था।  अब तो शराब के राजस्व बढ़ाने की सोच रहे हैं।  गांव में पहले शराबबंदी के लिए जनजागरण चल रहा है तो फिर क्यों सरकार जनजागरण की बात कह रही है।  मंत्रालय के सामने इसलिए इक_ा हो रहे क्योंकि मंत्रालय से ही नीति बनती है, सभी अधिकारी शराबबंदी के लिए संकल्प ले, मंत्रिपरिषद शपथ ले, सरकार अधिकारियों से शराबबंदी के लिए शपथ पत्र भरवाए।  तभी समझ आएगा कि सरकार शराबबंदी करना चाहती है, अगर शराबबंदी जल्द लागू नहीं हुई और शपथ पत्र नहीं भरवाया गया तो सरकार के खिलाफ मंत्रालय से मौन मार्च निकालेंगे, जिस शराब से लोगों की जान जाती है उसे सरकार बंद नहीं कर रही है।  विपक्ष में रहते इन्होंने बहुत हल्ला किया था, लेकिन अब क्या हो गया। 
जिस जगह पर आज इक_ा हुए वहां पर दीनदयाल की प्रतिमा है जिसका अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।  एक रुपया किलो में चावल छत्तीसगढ़ में चालू हुआ था वो हमारी सरकार की देन थी।  छत्तीसगढ़ सरकार ने बेहतर योजना चलाई।  धान अर्पित करके दीनदयाल की पुण्यतिथि हमने मनाई।  सरकार ने मध्यमकालीन ऋण को अभी तक शामिल नहीं किया।  हम इसके लिए सरकार को समय देंगे।  सरकार अटल नगर में अटल बिहारी बाजपेयी की स्मारक नहीं बना रही है, अगर सरकार स्मारक नहीं बनाई तो हम अपने-अपने घर से धान बेचकर स्मारक बनाएंगे।  हमारी सरकार ने नया रायपुर को अटल नगर का नाम दिया, लेकिन इस सरकार ने स्मारक नहीं बनाया। 

K.W.N.S.- रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली द्वारा लगाए गए कांग्रेस व माओवादियों के गठबंधन के आरोप को गंभीर मानते हुए कांग्रेस-नक्सली रिश्तों की जांच की मांग की है।
विदित रहे, केन्द्रीय मंत्री श्री जेटली ने अपने एक लेख में छत्तीसगढ़ के हाल ही हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पर माओवादियों के साथ गठबंधन करने का आरोप लगाया है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि श्री जेटली के आरोप इसलिए भी गंभीर हैं क्योंकि हर बार छत्तीसगढ़ के चुनाव में नक्सली चुनाव और मतदान का बहिष्कार करते थे, लेकिन इस बार 2018 के चुनाव में ऐसा कुछ नहीं होना श्री जेटली के आरोपों को प्रामाणिक सिध्द करता है। उन्होंने ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता राजबब्बर का रायपुर में नक्सलियों को क्रांतिकारी बताना भी कांग्रेस की चुनावी रणनीति का ही एक अंग था। इसी रणनीति के तहत मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने झारखंड में नक्सलियों से कांग्रेस के लिए समर्थन मांगा था।
भाजपा प्रवक्ता श्री श्रीवास्तव ने कांग्रेस नेताओं पर नक्सली-रिश्तों के परिप्रेक्ष्य में कटाक्ष किया कि ‘झीरम-झीरम‘ का शोर मचाने वालों का दोहरा चरित्र अब सामने आएगा। झीरम घाटी के नक्सली हमले के सबूत जेब में रखकर चलने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एसआईटी को वे सबूत सौंपने में वक्त क्यों लगा रहे हैं? क्यों वे झीरम कांड के पीड़ित-परिवारों को न्याय दिलाने में विलंब कर रहे हैं? जिन नक्सलियों ने कांग्रेस के दिग्गज नेताओं व कार्यकर्ताओं पर हृदयविदारक जानलेवा हमला किया, सीआरपीएफ और पुलिस के जवानों का रक्त बहाया, उनको ही कांग्रेस के नेता क्रांतिकारी बताने  और कांग्रेस के समर्थन के लिए कहने में मशगूल रहे! उस वक्त न तो प्रदेश के किसी कांग्रेस नेता और न ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तक ने इस पर कोई ऐतराज जताया। अपने इस दोहरे आचरण के लिए कांग्रेस नेताओं को न केवल छत्तीसगढ़, अपितु देशभर की जनता से माफी मांगनी चाहिए। 
श्री श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का जेएनयू में ‘टुकड़े-टुकड़े गिरोह‘ के साथ खड़ा होना, अदालत में अर्बन नक्सलियों के बचाव में कांग्रेस का सबसे आगे नजर आना कांग्रेस-नक्सली रिश्तों की इसी कलंकपूर्ण पटकथा के अध्याय थे। अविभाजित मध्यप्रदेश के काल में छत्तीसगढ़ के संसाधनों का शेष मध्यप्रदेश में उपयोग कर छत्तीसगढ़ को कंगाल बनाए रखने के कारण ही यहां नक्सलवाद पनपा। कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के साथ उपनिवेश जैसा सौतेला बर्ताव करके सत्ता का सुख भोगा लेकिन भाजपा की सरकार ने 15 वर्षों में न केवल नक्सली उत्पातों पर अंकुश साधा, अपितु नक्सल पीड़ित क्षेत्रों के साथ ही पूरे प्रदेश में विकास का उपलब्धिपूर्ण इतिहास रचा। भाजपा प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि नक्सलियों के साथ कांग्रेस का गठजोड़ उस समय भी स्पष्ट रूप से सामने आया जब अर्बन नक्सलियों की गिरफ्तारी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर उनको अपना समर्थन दिया था जबकि मामला कोर्ट में था और कोर्ट ने उन्हें कोई राहत देने से इंकार किया था। उन्होंने कहा कि झीरम हमले पर भी संपादकों के सम्मेलन में राहुल गांधी ने नक्सलियों को क्लीनचिट दिया था, इससे फिर कांग्रेस का नक्सलियों से गठजोड़ सामने आ रहा है।

About Us

खबर वर्ल्ड 24 .com एक ऐसा न्यूज बेबसाईट है।जिसके माध्यम से विभिन्न दैनिक समाचार पत्र एवं अन्य पत्रिका को समाचार एवं फोटो फीचर की सेवायें न्यूनतम शुल्क में प्रदान किया जाता है।साथ ही लिंक के द्वारा भी अन्य पाठकों को भी फेसबुक व्हाट्सएप, यूटयूब व अन्य संचार माध्यम से प्रतिदिन समय समय पर न्यूज भेजा जाता है। khabarworld24.com बहुत कम समय मे अपने पाठकों के बीच लोकप्रिय हुआ है। इस वेबसाइट में विभिन्न प्रकार के समाचार जैसे राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक, प्रसाशनिक, स्वास्थ्य, व्यापार, खेल मनोरंजन, कानून, अपराध, पर्यटन, सांस्कृतिक, एवं सम सामायिक घटनाक्रम का समावेस रहता है। ख़बरवर्ल्ड न्यूज सर्विसेज kwns उत्कृष्ट समाचार एवं सेवाएं देने के लिए तत्पर व कटिबद्व है |

संपर्क करे

संपादक : व्यास पाठक
पता : ख़बरवर्ल्ड न्यूज सर्विसेस प्रेस एंड मीडिया हाउस
तेलीबांधा तालाब की पीछे श्याम नगर रायपुर छत्तीसगढ़ पिन 492006
☎ +91 9329228972
khabarworld2010@gmail.com

Timeline